महंगाई लगा सकती है इकोनॉमी की तरक्‍की पर ब्रेक, जानिए ब्रोकरेज कंपनी ने क्‍यों दी ऐसी राय

महंगाई लगा सकती है इकोनॉमी की तरक्‍की पर ब्रेक, जानिए ब्रोकरेज कंपनी ने क्‍यों दी ऐसी राय

जिंसों की बढ़ती कीमतों (Commodity Prices) से भारत के सामने वृहत आर्थिक मोर्चे पर जोखिम पैदा हो सकता है। इसमें मुद्रास्फीति और आर्थिक वृद्धि शामिल हैं। इसमें महंगाई दर पहले से ही ऊंची बनी हुई है। एक विदेशी ब्रोकरेज कंपनी ने बृहस्पतिवार को यह कहा। मॉर्गन स्टेनली के विश्लेषकों ने कहा कि तेल की कीमतें 14 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 83 डॉलर प्रति बैरल हो गयी हैं और कोयले की कीमत भी 15 प्रतिशत के उछाल के साथ 200 डॉलर प्रति टन पर पहुंच गयी है।

उन्होंने कहा, "ऊर्जा की कीमतों, विशेषकर तेल के मामले में वृद्धि और उच्च मुद्रास्फीति से धीमी वृद्धि की चिंताएं जन्म ले रही है। साथ ही इससे यह भी आशंका बढ़ गयी है कि शायद इसके कारण मौद्रिक नीति सख्त हो सकती है।" विश्लेषकों ने कहा कि मुद्रास्फीति के और बढ़ने का जोखिम है और वृद्धि केवल दो साल की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर से ही सुधरेगी, जिससे नीति सामान्य स्तर पर पहुंचेगी।

उन्होंने कहा कि अगले कुछ महीने में पांच प्रतिशत के स्तर से नीचे रहने के बाद मार्च 2022 में समाप्त होने वाली तिमाही तक मुद्रास्फीति 5.5 प्रतिशत की ओर जाएगी और ऊर्जा की कीमतों विशेषकर तेल के मामले में निरंतर वृद्धि से मुद्रास्फीति के बढ़ने का जोखिम है।

तेल की कीमतों में 10 प्रतिशत की वृद्धि से सीपीआई (उपभोक्ता मूल्य सूचकांक) मुद्रास्फीति में 0.40 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है। चूंकि भारत अपनी तेल की मांग का 80 प्रतिशत हिस्सा आयात करता है, ऐसे में तेल की कीमतों में 10 प्रतिशत की वृद्धि से चालू खाता घाटा (सीएडी) बढ़कर जीडीपी का 0.30 प्रतिशत हिस्सा हो सकता है। उन्होंने कहा, हालांकि, अच्छे निर्यात से यह सुनिश्चित होगा कि वित्त वर्ष 2021-22 में चालू खाते का अंतर एक प्रतिशत तक सीमित रहे।


दिवाली पर Home Loan लेने पर पाइए 12 EMI की छूट, Axis-IndusInd बैंक लाएं हैं शानदार ऑफर

दिवाली पर Home Loan लेने पर पाइए 12 EMI की छूट, Axis-IndusInd बैंक लाएं हैं शानदार ऑफर

देश के दो अग्रणी प्राइवेट बैंक Axis Bank और IndusInd Bank ने त्‍योहारों से पहले दो शानदार ऑफर निकाले हैं। ऑफर ऐसा है जो घर खरीदारी और दूसरी शॉपिंग में बड़ा काम आएगा। IndusInd Bank के ऑफर में जहां डेबिट कार्ड पर शॉपिंग करने पर EMI में बदलने का ऑप्‍शन है, वहीं Axis Bank त्योहारी पेशकश के तहत चुनिंदा Home Loan उत्पादों पर 12 मासिक किस्तों (EMI) की छूट दे रहा है।

IndusInd Bank ने ऐलान किया है कि उसने त्‍योहारी पेशकश के तहत EMI on Debit Card फैसिलिटी शुरू की है। बैंक का ग्राहक किसी भी पार्टिसिपेटिंग स्‍टोर में जाकर खरीदारी कर सकता है और डेबिट कार्ड पर Emi की सुविधा उठा सकता है।

IndusInd Bank में CDO चारू माथुर के मुताबिक बैंक ने 60 हजार ऑफलाइन स्‍टोर के साथ पार्टनरशिप की है। इसमें Consumer Durables, Electronics, Apparels, Automobiles, Home Décor, Hospitals और दूसरे शामिल हैं। यहां कस्‍टमर जब शॉपिंग करेगा तो डेबिट कार्ड से पेमेंट के बाद उसे उस खरीदारी को EMI में बदलने का मौका मिलेगा। वह 3 से 24 महीने की Emi में अपनी शॉपिंग को बदल सकता है। इसके लिए वे 5676757 पर SMS कर अपनी एलिजिबिलिटी पता कर सकते हैं। ग्राहक को MYOFR टाइप कर भेजना होगा।


दूसरी तरफ Axis Bank ने Home Loan के अलावा विभिन्न ऑनलाइन खरीद पर भी छूट देने का फैसला किया है। बैंक ने कहा कि वह चुनिंदा आवास ऋण उत्पादों पर 12 ईएमआई की छूट की पेशकश कर रहा है और दोपहिया ग्राहकों के लिए बिना किसी प्रोसेसिंग शुल्क के कर्ज प्रदान कर रहा है। बैंक कारोबार क्षेत्र के लोगों के लिए सावधि कर्ज, उपकरण कर्ज और वाणिज्यिक वाहन कर्ज पर कई लाभ प्रदान करेगा।

बैंक ने 'दिल से ओपन सेलिब्रेशंस : क्योंकि दिवाली रोज रोज नहीं आती' पेश करने की घोषणा करते हुए कहा कि वह एक्सिस बैंक के डेबिट और क्रेडिट कार्ड से की गयी खरीदारी पर रेस्तरां और अन्य खुदरा ऋण उत्पादों में खरीदारी पर सौदों और छूट की पेशकश करेगा। ग्राहकों को 50 शहरों में चुनिंदा 2,500 स्थानीय व्यापारियों से खरीदारी पर 20 प्रतिशत तक की छूट दी जाएगी। बैंक ग्राहकों को इन दुकानों से खरीदारी करने पर 20 प्रतिशत तक की छूट मिलेगी।