CM नीतीश कुमार पाए गए कोरोना पॉजिटिव, घर में ही आइसोलेट

CM नीतीश कुमार पाए गए कोरोना पॉजिटिव, घर में ही आइसोलेट

विस्तार बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मुख्यमंत्री दफ्तर के हवाले से बताया गया कि सीएम नीतीश में कोरोना के हल्के लक्षण हैं।

चिकित्सकों की सलाह पर उन्हें घर में ही आइसोलेशन में रखा गया है। बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री ने सभी से जरूरी दिशा-निर्देशों का पालन करने की बात कही। 

पिछले दिनों जारी आदेश में राज्य में 6 से 21 जनवरी के बीच रात्रि प्रतिबंध (रात 10 बजे से सुबह 5 तक) को बढ़ा दिया गया। इसके अलावा सभी धार्मिक स्थल, मॉल, सिनेमा, क्लब, स्वीमिंग पूल, जिम, स्टेडियम व पार्क को भी 21 जनवरी तक बंद करने का आदेश दिया जा चुका है।

नीतीश पिछले सोमवार को उनके 'जनता के दरबार में मुख्यमंत्री' कार्यक्रम में उपस्थित कई लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई थी। इसके एक दिन बाद ही दोनों डिप्टी सीएम सहित कई मंत्रियों ने कैबिनेट बैठक से ठीक पहले कोरोना संक्रमित होने की जानकारी दी थी।

कोरोना संक्रमित होने के बाद नीतीश कुमार ने शराब, दहेज और बाल विवाह जैसी सामाजिक बुराइयों के खिलाफ राज्यव्यापी 'समाज सुधार अभियान' सहित कई कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया है। पिछले एक सप्ताह में मुख्यमंत्री के आवास पर तैनात कई कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।


बिहार दर्दनाक हादसा! SBB कैंप पर गिरा हाई वोल्टेज तार, इतने जवानो की मौत

बिहार दर्दनाक हादसा! SBB कैंप पर गिरा हाई वोल्टेज तार, इतने जवानो की मौत

बिहार के सुपौल जिले में एसएसबी की 45वीं बटालियन के वीरपुर कैंप में शुक्रवार को एक बड़ा हादसा हो गया। यहां हाई वोल्टेज तार की चपेट में आने से तीन ट्रेनी जवानों की मौत हो गई, जबकि आठ झुलस कर घायल हो गए। इसमें से चार घायलों को डीएमसीएच रेफर कर दिया गया है। हादसे के बाद कैंप में अफरा तफरी का माहौल है।  



तीनों की मौके पर ही हुई मौत
मृतकों में महाराष्ट्र निवासी अतुल पाटिल (30 वर्ष), परशुराम सबर (24 वर्ष) और महेंद्र चंद्र कुमार बोपचे (28 वर्ष) हैं। इनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं घायल जवान नरसिंह चौहान, के चंद्रशेखर, परितोष अधिकारी, मांडवे राजेंद्र, मोहम्मद शमशाद, सुकुमार वर्मा, सोना लाल यादव और आनंद किशोर को अनुमंडल अस्पताल लाया गया है। प्रारंभिक इलाज के बाद चार घायल जवानों को रेफर कर दिया गया है। 

टेंट उतारते समय पाइप से छू गया तार 
जानकारी के मुताबिक, वीरपुर कैंप में 45वीं बटालियन के कमांडेंट एचके गुप्ता का ट्रांसफर हो गया। इसी सिलसिले में बुधवार सुबह उनकी विदाई समारोह का आयोजन किया गया था। यहां टेंट और तंबू लगाया गया था। कार्यक्रम समाप्त होने के बाद शुक्रवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे ट्रेनी जवानों को टेंट खोलने के लिए लगाया गया। इसी दौरान ऊपर से गुजर रहे हाई वोल्टेज तार से टेंट का एक पाइप छू गया और करंट पूरे टेंट में उतर आया। एक साथ काम कर रहे सभी जवान इसकी चपेट में आ गए। इस हादसे के बाद वीरपुर कैंप में हड़कंप मच गया।