बिहार: नरकटिया से भाजपा विधायक रश्मि वर्मा ने दिया इस्तीफा, पार्टी ने वापस लेने का किया आग्रह

बिहार: नरकटिया से भाजपा विधायक रश्मि वर्मा ने दिया इस्तीफा, पार्टी ने वापस लेने का किया आग्रह

विस्तार बिहार में भाजपा को करारा झटका लगा है। बताया जा रहा है भाजपा की एक विधायक ने पार्टी से अपने रास्ते अलग कर लिए हैं। राज्य की नरकटियागंज विधानसभा सीट से विधायक रश्मि वर्मा ने रविवार को अपना इस्तीफा दे दिया। उन्होंने इस्तीफे की वजह व्यक्तिगत बताई है। हालांकि भाजपा ने उनसे अपना त्यागपत्र वापस लेने का आग्रह किया है।

नरकटियागंज निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाली रश्मि वर्मा ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर साझा की, जिसमें उनके हाथ में स्पीकर को संबोधित त्यागपत्र था। 53 वर्षीय विधायक की शादी जमींदार परिवार में हुई है, जो पश्चिम चंपारण जिले के शिकारपुर एस्टेट के मालिक हैं।

कोई राजनीतिक कोण नहीं
भाजपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि विधायक को विधानसभा अध्यक्ष को त्यागपत्र सौंपने से रोका गया और उनसे इस्तीफा वापस लेने का आग्रह किया गया। साथ जायसवाल ने मीडिया से कहा कि यह स्पष्ट करने की आवश्यकता है कि उन्होंने पारिवारिक कारणों से आवेग में आकर इस्तीफा देने का निर्णय लिया और इस प्रकरण में कोई राजनीतिक कोण नहीं है।

राज्य में भाजपा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जदयू के साथ मिलकर सत्ता में है। रश्मि ने 2014 में एक उप-चुनाव में भी भाग्य आजमाया था और एक साल बाद ही कांग्रेस से अपनी सीट हार गई, लेकिन 2020 के विधानसभा चुनावों में इसे वापस ले लिया। वर्मा 2020 में चुनाव के तुरंत बाद चर्चा में थीं, जब उन्हें जबरन वसूली का कॉल आया था। पिछले महीने दिल्ली में एक प्रिंटिंग प्रेस के मालिक उनके भाई को उत्तर प्रदेश में शिक्षक पात्रता परीक्षा के पेपर लीक के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था।


बिहार दर्दनाक हादसा! SBB कैंप पर गिरा हाई वोल्टेज तार, इतने जवानो की मौत

बिहार दर्दनाक हादसा! SBB कैंप पर गिरा हाई वोल्टेज तार, इतने जवानो की मौत

बिहार के सुपौल जिले में एसएसबी की 45वीं बटालियन के वीरपुर कैंप में शुक्रवार को एक बड़ा हादसा हो गया। यहां हाई वोल्टेज तार की चपेट में आने से तीन ट्रेनी जवानों की मौत हो गई, जबकि आठ झुलस कर घायल हो गए। इसमें से चार घायलों को डीएमसीएच रेफर कर दिया गया है। हादसे के बाद कैंप में अफरा तफरी का माहौल है।  



तीनों की मौके पर ही हुई मौत
मृतकों में महाराष्ट्र निवासी अतुल पाटिल (30 वर्ष), परशुराम सबर (24 वर्ष) और महेंद्र चंद्र कुमार बोपचे (28 वर्ष) हैं। इनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं घायल जवान नरसिंह चौहान, के चंद्रशेखर, परितोष अधिकारी, मांडवे राजेंद्र, मोहम्मद शमशाद, सुकुमार वर्मा, सोना लाल यादव और आनंद किशोर को अनुमंडल अस्पताल लाया गया है। प्रारंभिक इलाज के बाद चार घायल जवानों को रेफर कर दिया गया है। 

टेंट उतारते समय पाइप से छू गया तार 
जानकारी के मुताबिक, वीरपुर कैंप में 45वीं बटालियन के कमांडेंट एचके गुप्ता का ट्रांसफर हो गया। इसी सिलसिले में बुधवार सुबह उनकी विदाई समारोह का आयोजन किया गया था। यहां टेंट और तंबू लगाया गया था। कार्यक्रम समाप्त होने के बाद शुक्रवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे ट्रेनी जवानों को टेंट खोलने के लिए लगाया गया। इसी दौरान ऊपर से गुजर रहे हाई वोल्टेज तार से टेंट का एक पाइप छू गया और करंट पूरे टेंट में उतर आया। एक साथ काम कर रहे सभी जवान इसकी चपेट में आ गए। इस हादसे के बाद वीरपुर कैंप में हड़कंप मच गया।