यूरिया की किल्‍लत के बीच सांसद विवेक ठाकुर बोले...

यूरिया की किल्‍लत के बीच सांसद विवेक ठाकुर बोले...

सात साल के भाजपा शासन काल में खाद, रसोई गैस व बिजली की किल्लत न तो हुई है और न होगी। इस बार कुछ तकनीकी गड़बड़ी के कारण किल्लत हुआ है, जिसे ठीक किया जा रहा है। उक्त बातें सोमवार की शाम भाजपा नेता व राज्यसभा सदस्य विवेक ठाकुर ने नरहट रोड के जानकी कंप्लेकस स्थित वैदिक उपचार केंद्र सह भाजपा नेता ई. रंजीत कुमार के कार्यालय में कार्यकर्ताओं व उपस्थित लोगों से कही। दरसअल, लोगों ने क्षेत्र में यूरिया खाद की किल्लत व किसानों को हो रही परेशानियों से सांसद को अवगत कराया था। जिसपर उन्होंने त्वरित संज्ञान में लेते हुए कृषि मंत्री से बात कर जानकारी प्राप्त किया और बताया कि 76 हजार बोरी खाद बहुत जल्द नवादा को मिल जाएगा।

इस दौरान वहां उपस्थित आरएसएस व भाजपा कार्यकर्ताओं ने कार्यालय प्रमुख नीरज कुमार निराला कि अगुवाई में सांसद को आगामी दीपावली के अवसर पर जिले के सुदूरवर्ती इलाके के 101 मंदिरों में दीपोत्सव कार्यक्रम मानने के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। सांसद के आने से सभी कार्यकर्ताओं में उत्साह दिखा। ई. रंजीत ने भी सिंगापुर से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से कार्यकर्ताओं के साथ सांसद का स्वागत किया। मौके पर भाजपा नवादा जिलाध्यक्ष संजय कुमार मुन्ना, उपाध्यक्ष विजय पांडे, उपाध्यक्ष नीतिनंदन, कोषाध्यक्ष जितेंद्र पासवान,प्रमोद कुमार चुन्नु, नारदीगंज मंडल के अध्यक्ष विपिन सिंह, मोहन चंद्रवंशी, स्वयंसेवक परमेंदर जी, धर्मेंद्र कुमार, डॉ शैलेंद्र प्रसून, रजनीश सिंह , श्रीराम शर्मा , कौशल किशोर, बंटी, सहित दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

संसू, सिरदला : सोमवार को सिरदला फूल बगान चौक पर सांसद विवेक कुमार ठाकुर का भाजपा कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया। इस दौरान सांसद ने गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत क्षेत्र के बरदाहा स्थित बच्चू चौधरी के पीडीएस दुकान पर पहुंचकर 100 गरीबों के बीच अन्न का थैला का वितरित किया। मौके पर मोहन कुमार गुप्ता, मोती राम, भाजपा प्रखंड अध्यक्ष महेश राय, नीरज कुमार गुप्ता, हरिश्चंद्र राजवंशी, नरेश कुमार, यमुना राजवंशी, अशोक कुमार राम, परशुराम सिंह समेत दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित थे।


सांसद ने मेसकौर में थैला वितरण कार्यक्रम में लिया भाग

संसू, मेसकौर : सोमवार की शाम मेसकौर स्थित जन वितरण प्रणाली के पूर्व विक्रेता स्वर्गीय विश्वनाथ प्रसाद कान्धवे के पैतृक आवास के समीप भाजपा सांसद विवेक ठाकुर पहुंचे। उन्होंने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों के बीच थैला में अनाज का वितरण अपने हाथों से किया। कार्यक्रम में उपस्थित स्थानीय मुखिया रामानंद प्रसाद ने राशन योजना से वंचितों को इसका लाभ दिलाने का आग्रह सांसद से किया। जिसपर उन्होंने उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया। मौके पर मेसकौर मंडल अध्यक्ष सुनील कुमार, संजय चौधरी सहित दर्जनों भाजपा कार्यकर्ता एवं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लाभार्थी मौजूद रहे।


यूपीएससी में बिहार के शुभम कुमार आल इंडिया टॉपर, यहां देखें अपना रिजल्ट

यूपीएससी में बिहार के शुभम कुमार आल इंडिया टॉपर, यहां देखें अपना रिजल्ट

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने शुक्रवार को सिविल सेवा परीक्षा-2020 का परिणाम घोषित कर दिया है। इसबार यूपीएससी परीक्षा में 761 अभ्यर्थी सफल हुए हैं। बिहार के कटिहार निवासी शुभम कुमार (Roll No. 1519294) ने देशभर में टॉप किया है। वहीं जागृति अवस्थी को दूसरी तो अंकिता जैन को तीसरी रैंक मिली है। वहीं बिहार के जमुई जिले चकाई बाजार निवासी सीताराम वर्णवाल के पुत्र प्रवीण कुमार ने सातवां स्थान हासिल किया है। यूपीएसससी सीएसई 2020 फाइनल रिजल्ट में कुल 25 अभ्यर्थियों ने टॉप किया है, जिसमें 13 पुरुष और 12 महिला अभ्यर्थी हैं। छात्र परिणाम https://www.upsc.gov.in/ पर जाकर देख सकते हैं। रोल नंबर देखने के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं। 

शुभम ने आइआइटी बाम्बे से पढ़ाई की है। शुभम को वर्ष 2019 परीक्षा में आल इंडिया में 290 रैंक हासिल हुई थी। टॉपर शुभम ने एंथ्रोपोलॉजी वैकल्पिक विषय से इग्जाम दिया था। आइआइटी बॉम्बे से सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक करने के बाद शुभम ने यूपीएससी की परीक्षा दी थी। वहीं जागृति अवस्थी ने एमएएनआइटी भोपाल से इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग में बीटे की डिग्री हासिल की है। जागृति ने वैकल्पिक विषय के रूप में समाजशास्त्र को चुना था। बता दें कि सिविल सेवा मुख्य परीक्षा का आयोजन जनवरी 2021 में किया गया था। इसमें सफल अभ्यर्थियों का इंटरव्यू अगस्त-सितंबर 2021 में पूरा हुआ था। साक्षात्कार के बाद जिनका चयन किया गया है, उनका नाम वेबसाइट पर जारी कर दिया गया है। इस वर्ष आइएएस के लिए 180, आइएफएस के लिए 36 और आइपीएस के लिए 200 सीटें सुरक्षित हैं। इसके अतिरिक्त सेंट्रल सर्विस ग्रुप एक में 302, ग्रुप बी सर्विस में 118 पद सुरक्षित है। इससे पहले 1987 में आमिर सुबहानी, 1996 में सुनील वर्णवाल तथा 2001 में अलोक रंजन झा यूपीएससी में टाप करने वाले बिहार के अभ्यर्थी थे। 


पिता बनना चाहते थे आइएएस, बेटे ने पूरा किया सपना

शुभम ने कहा कि अपने गांव को देखकर मुझे आइएएस बनने की प्रेरणा मिली। उन्होंने कहा कि यूपीएससी की तैयारी कहीं पर भी रहकर की जा सकती है। मेरी सफलता में परिवार का बड़ा सहयोग है। वहीं शुभम की मां ने कहा कि बेटे ने आज देश में नाम रोशन कर दिया है। शुभम बचपन से ही टॉपर है। शुभम की मां ने कहा कि उसके पिता आइएएस बनना चाहते थे, वो नहीं बन सके तो बेटे ने सपना पूरा कर दिया।