हरियाणा STF ने फिशिंग और हवाला कारोबार से जुड़े पांच शातिरों को दबोचा

हरियाणा STF ने फिशिंग और हवाला कारोबार से जुड़े पांच शातिरों को दबोचा

सदर थाना पर बैठे हुए आरोपी

देश मे गरीब स्त्री और बुजुर्गों के बैंक एकाउंट का उपयोग हवाला के धंधे के लिए किया जा रहा है. इसका खुलासा हरियाणा STF और मुजफ्फरपुर पुलिस की कार्रवाई में हुआ है. दरअसल, हरियाणा STF भिन्न-भिन्न राज्यों से चार शातिरों को दबोचती हुई मुजफ्फरपुर तक पहुंची. इन शातिरों ने ही जिले के एक पुरुष का नाम और ठिकाना बताया था, जो इस धंधे स्व जुड़ा हुआ है. संयुक्त रूप से छापेमारी कर जिले के कांटी क्षेत्र से एक पुरुष को पकड़ा गया. पूछताछ और सत्यापन में पता लगा कि ये भी इसी रैकेट से जुड़ा हुआ है. सभी से सदर थाना पर पूछताछ कर आगे की कार्रवाई की जा रही है. आधिकारिक तौर पर अभी इसकी पुष्टि नहीं कि गयी है. पुलिस इस मुद्दे में अभी गोपनीयता बरत रही है.

SSP ने की पूछताछ

SSP जयंतकांत ने भी सदर थाना पहुंचकर इन शातिरों से पूछताछ की. उन्होंने बोला कि अभी कुछ बोलना जल्दबाजी होगी. इन लोगों से पूछताछ में कई अहम जानकारियां मिली हैं. इसी आधार पर अभी कार्रवाई चल रही है. ये बहुत बड़ा गैंग है. इनका एक चेन बना हुआ है. जिसे पता कर ध्वस्त करने और मास्टरमाइंड या कहें तो सरगना तक पहुंचने की रणनीति बनाई जा रही है. हरियाणा STF के अतिरिक्त बिहार STF और मुजफ्फरपुर पुलिस कार्रवाई कर रही है. कार्रवाई पूरी होने के बाद विस्तृत जानकारी दी जाएगी.

15-20 हजार रुपए महीने के किराए पर लेटे हैं एकाउंट

पुलिस सूत्रों ने बताया कि ये रैकेट फिशिंग के धंधे से भी जुड़ा है. लोगों को कॉल कर लकी ड्रा में पुरस्कार पड़ने का झांसा देकर या KBC के नाम पर ठगी करता है. इसके अतिरिक्त जो सबसे जरूरी बात पता लगी है वह हवाला धंधे से जुड़े होना है. पूछताछ में पता लगा कि ये एजेंट के तौर पर काम करते हैं. एक दो नहीं बल्कि हजारों की संख्या में विभिन्न राज्यों में एजेंट फैले हुए हैं. ये गरीब स्त्री और बुजुर्गों को प्रत्येक महीने 15-20 हजार रुपए देने का लालच देते हैं. उन्हें झांसा देकर उनसे बैंक एकाउंट नम्बर, ATM समेत अन्य डिटेल ले लेते हैं. उनके एकाउंट को कहें तो किराए पर ले लेते हैं.

6% तक मिलता है कमीशन

आरोपियों ने बताया कि उन्हें इस काम के लिए प्रत्येक लेंन-देंन पर 6% कमीशन मिलता है. ये बैंक एकाउंट डिटेल शेयर करते हैं. फिर उस खाता पर हवाला का पैसा आता है. जिस पैसे को ये व्हाइट मनी में परिवर्तित कर भेजते हैं. इसके बदले में इन्हें कमीशन मिलता है. पकड़े गए शातिरों के पास मिले बैंक एकाउंट का डिटेल खंगाला गया तो इसमे लाखों रुपए का लेंन-देंन होने का पता लगा है.

सऊदी अरब और पाक में आका

अबतक की जांच में पता लगा कि इनका सिंडिकेट पाक और सऊदी अरब तक है. बोला जा रहा है कि इस गैंग का सरगना वहीं पर बैठा है और वहीं से वह पूरा गैंग चला रहा है. हरियाणा STF कुछ भी बोलने से3 परहेज कर रही है. बताया जा रहा है कि इससे जुड़ा मामला वहीं पर सामने आया था. जिसके बाद हरियाणा STF इस मुकदमा की गुत्थी सुलझाने निकल पड़ी. एक के बाद एक पांच शातिर अबतक दबोचे गए हैं. आगे कार्रवाई जारी है. आसार है कि शनिवार को इन्हें न्यायालय में पेश कर प्रोडक्शन वारंट पर लेकर टीम यहां से रवाना हो जाएगी.